ताजा ख़बरेंब्रेकिंग न्यूज़राष्ट्रीय

आपत्ति इंटरनेट मीडिया के इस्तेमाल का नहीं, सवाल इनके दुरुपयोग का है : रविशंकर प्रसाद

सरकार को इंटरनेट मीडिया के इस्तेमाल किये जाने पर कोई आपत्ति नहीं है, पर सवाल इन प्लेटफा‌र्म्स के दुरुपयोग का है। सरकार इंटरनेट मीडिया के दुरुपयोग के शिकार लोगों की आवाज है और चाहती है कि देश में इन प्लेटफा‌र्म्स पर शिकायतों के निपटारे का तंत्र बने। एक आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बीते दिन गुरुवार को यह बात बोली। मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बोला, ‘आपके पास शिकायत निवारण का एक तंत्र होना चाहिए, ताकि कोई चाहे तो अपनी शिकायत वहां दर्ज करा सके।’ उन्होंने बोला कि सरकार आलोचना के खिलाफ नहीं है। केंद्रीय मंत्री ने बोला, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 साल से ज्यादा समय झूठे आरोपों और अभियान का शिकार रहे हैं। हम आलोचना का स्वागत करते हैं और यह आलोचना प्रधानमंत्री, सभी मंत्रियों और पूरी सरकार की हो सकती है।’ सरकार ने हाल ही में इंटरनेट मीडिया, ओवर द टॉप (OTT) प्लेटफार्म और डिजिटल न्यूज मीडिया के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं।

आइए पहले जानते हैं ओवर द टॉप (OTT) के बारे में:- ओवर-द-टॉप (OTT) एक मीडिया सेवा है जो इंटरनेट के माध्यम से दर्शकों को सीधे पेश की जाती है। ओटीटी केबल, प्रसारण और उपग्रह टेलीविजन प्लेटफार्मों को बायपास करता है, उन कंपनियों के प्रकार जो परंपरागत रूप से ऐसी सामग्री के नियंत्रक या वितरक के रूप में कार्य करते हैं।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बोला कि किसी के पहनावे को लेकर आलोचनात्मक नहीं होना चाहिए। फटी जींस पहनने को लेकर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की टिप्पणी से उपजे विवाद को लेकर पूछे जाने पर केंद्रीय मंत्री प्रसाद ने यह कहा। केंद्रीय मंत्री ने बोला कि मुख्यमंत्री पहले ही माफी मांग चुके हैं। मुद्दे को ज्यादा तूल नहीं दिया जाना चाहिए। इसी कार्यक्रम में हिस्सा ले रहीं केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने बोला कि राजनेताओं को किसी के पहनावे पर टिप्पणी नहीं करनी चाहिए। उनका काम नीतियां बनाना और कानून व्यवस्था सुनिश्चित करना होता है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close