ताजा ख़बरेंदेशराज्य

एक और जिला कलेक्टर की बदसुलूकी आई सामने, युवक को जड़ा थप्पड़, वीडियो हुआ वायरल

देश के एक और राज्य से जिला कलेक्टर का अमानवीय चेहरा सामने आया है। मामला राज्य छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले का है। जहाँ कलेक्टर रणवीर शर्मा का एक वीडियो शनिवार को तेजी से इंटरनेट मीडिया पर खुब वायरल हुआ। इसमें कलेक्टर ने एक युवक का मोबाइल लेकर जमीन पर पटकते नजर आ रहें हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने अपने हाँथों से उस युवक को थप्पड़ भी लगाया। जब बात इतने से भी नहीं बनी तो कलेक्टर ने अपने गार्ड को आदेश दिया और उस युवक को उससे भी पिटवाया। जबकि वीडियो में युवक यह कहता दिख रहा है कि वह अपना कोरोना टेस्ट कराने गया था। युवक के हाथ में एक कागज भी है, जो की मेडिकल कागज था जिसे वह बार-बार दिखाने की कोशिश कर रहा है और कलेक्टर से ये भी बता रहा की उसे अपने माता-पिता के लिए कुछ दवाइयां भी लेने जाना है।

गौरतलब है कि इससे पहले भी पश्चिम त्रिपुरा के जिलाधिकारी शैलेश यादव का भी एक बदसुलूकी वाला वीडियो वायरल हुआ था। इसमें वह एक शादी-समारोह में लोगों के साथ बदसुलूकी करते नजर आ रहे थे। कलेक्टर थप्पड़ मारने के साथ ही उस ओर इशारा करते हैं, जिधर अधिकारी कर्मचारियों के साथ सुरक्षा गार्ड रहता है। कलेक्टर का इशारा समझते ही सुरक्षा गार्ड दौड़ कर आता है और युवक की डंडे से पिटाई करनी शुरू कर देता है। साथ में मौजूद एक दूसरा पुलिसकर्मी भी युवक की दुसरे ओर से डंडे से पिटाई करनी शुरु कर देता है।

इस वीडियो के वायरल होने के बाद इंटरनेट मीडिया पर तरह-तरह के कमेंट्स आ रहे हैं। कलेक्टर ने माफी मांगी, बोला- मैं शर्मिदा हूं। उधर, वीडियो वायरल होने के बाद उठ रहे सवालों पर एक वाट्सएप ग्रुप में कलेक्टर ने सार्वजनिक रूप से माफी मांगी है। उन्होंने लिखा है कि मैं अपने व्यवहार से बहुत शर्मिदा हूं। मैं आप सभी से माफी मांगता हूं। मेरा किसी को अपमानित करने का इरादा नहीं था। सूरजपुर जिला समेत पूरा छत्तीसगढ़ कोविड महामारी से जूझ रहा है। हम सभी शासकीय अमला दिन-रात मेहनत कर रहे हैं, ताकि इस महामारी से सबको बचाया जा सके। मेरे माता-पिता और मैं खुद कोविड संक्रमण से ग्रसित हो गए थे। माताजी अब भी पाजिटिव हैं। वीडियो में जो व्यक्ति है, उनकी आयु 23 वर्ष है। मैं आप सभी से पुन: माफी मांगता हूं।

 

Related Articles

Back to top button
Close
Close