ताजा ख़बरेंराज्यराष्ट्रीय

चेन्नई के वंदालूर में कोरोना के डेल्टा वेरिएंट ने दी दस्तक, चार शेरों में मिला संक्रमण

जैसा आप सभी को पता है कि बीते कुछ समय से देश कोरोना महामारी की चपेट में था और अभी भी स्थिति सामान्य नहीं है। लोगों ने इस महामारी में बहुत सारी त्रासदी देखी। बीते कुछ समय से देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर का दौर चल रहा है। माना, महामारी की दूसरी लहर की रफ्तार काफी धीमी हो चुकी है। देश में हालात काफी सामान्य देखने को मिल रही है। ऐसे में कोरोना के डेल्टा वेरिएंट ने अब देश में दस्तक दी है। खबर आ रही है कि चेन्नई के वंदालूर में स्थित अरिगनार अन्ना जूलॉजिकल पार्क में कोरोना के डेल्टा वेरिएंट से चार शेर संक्रमित पाए गए हैं। इनके सैंपल की जीनोम सिक्वेंसिंग से इस बात की पुष्टि मिली है, जो भोपाल स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट आफ हाई सिक्योरिटी एनिमल डिजीज (NIHSAD) में किया गया। इन शेरों के नमूनों की ‘जीनोम सीक्वेंसिंग’ से पता चला है कि वे वायरस के ‘पैंगोलिन लिनियेज’ बी.1.617.2 वेरिएंट से संक्रमित थे जिसे WHO ने डेल्टा वेरिएंट बताया है। पार्क के एक अधिकारी ने इस बात की जानकारी खुद दी है।

अरिगनार अन्ना जूलॉजिकल पार्क ने 11 शेरों के सैंपल कोरोना टेस्ट के लिए NIHSAD, भोपाल भेजे थे। बीते 24 मई को चार शेर और 29 मई को सात शेरों के सैंपल भेजे गए थे। NIHSAD, भोपाल द्वारा 3 जून को भेजी गई सैंपल की रिपोर्ट के मुताबिक, 9 शेर कोरोना संक्रमित पाए गए थे।

पार्क के अधिकारियों ने संस्थान से कोरोना वायरस के जीनोम सिक्वेंसिंग के परिणामों को साझा करने का अनुरोध किया था, जिसने शेरों को संक्रमित किया है। इसके बाद ही यह जानकारी सामने आई है। नौ साल की एक शेरनी नीला और 12 साल की उम्र के पथबनाथन नाम के एक नर शेर की इस महीने की शुरुआत में कोरोना से मौत हो गई थी। जैविक उद्यान में मौजूद 14 में से सात शेर संक्रमित पाए गए थे।

बता दें कि बीते बुधवार को एक 12 वर्षीय शेर की कोरोना से मौत हो गई थी। उसको वंदालूर स्थित अरिगनार अन्ना जैविक उद्यान (AAZP) के सफारी क्षेत्र में रखा गया था। इससे पहले यहां एक शेरनी की भी संक्रमण से मौत हो गई है। इस दौरान उद्यान के उप निदेशक ने एक बयान जारी कर बताया था कि कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद शेर का सघन उपचार किया जा रहा था।

Related Articles

Back to top button
Close
Close