ताजा ख़बरेंदेशब्रेकिंग न्यूज़

टूलकिट मामले में आया नया मोड़ संबित पात्रा और रमन सिंह के खिलाफ दर्ज हुई एफआइआर

टूलकिट मामले ने अब एक नया मोड़ ले लिया है। जहाँ भाजपा ने इस टूलकिट को सही बताया है तो वहीं कांग्रेस इसे पूरी तरह से फर्जी बता रही है। वहीं, अब इस मामले में छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर दी गई है। इन दोनों को आगे की जांच के लिए तलब किया गया है। रायपुर सिविल लाइंस पुलिस एसएचओ आरके मिश्रा ने इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि कार्रवाई के लिए हमने संबित पात्रा को व्यक्तिगत रूप से या वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए यहां उपस्थित रहने के लिए नोटिस जारी किया है। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस NSUI के अध्यक्ष ने यह एफआइआर दर्ज कराई है।

कांग्रेस NSUI अध्यक्ष ने यह शिकायत संबित पात्रा के उस ट्वीट के खिलाफ की है, जिसमें उन्होंने ट्वीट कर लिखा था कि कांग्रेस टूलकिट मोदी शासन को बदनाम कर रही है। कांग्रेस ने एफआइआर में आरोप लगाए हैं कि भाजपा नेताओं ने फर्जी लेटरहेड और मनगढ़त सामाग्री का इस्तेमाल किया है।

बता दें कि पिछले दिनों भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने दावा किया था कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी हर दिन सुबह कोरोना को लेकर जो ट्वीट करते हैं, वह सब टूलकिट का एक हिस्सा है। कुंभ पर ये लोग कमेंट करते हैं और ईद पर चुप्पी साध लेते हैं। इसके बाद NSUI ने संबित पात्रा पर आरोप लगाया था कि फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल कर वह हमारे नेताओं को बदनाम कर रहे हैं। इसके बाद छत्तीसगढ़ NSUI ने संबित पात्रा और पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के खिलाफ एफआइआर दर्ज करवाई थी। इसी के आधार पर पुलिस ने पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया है।

 

Related Articles

Back to top button
Close
Close