ताजा ख़बरेंदेशराष्ट्रीय

बजट सत्र: पिछले तीन वर्षों में जम्मू-कश्मीर में सीमा पार से आतंकी घटनाओं व घुसपैठ में आई कमी, गोलाबारी में हुई बढ़ोत्तरी- गृह मंत्रालय का बयान

आप सब जानते हैं की इस वक़्त संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण जारी है। राज्यसभा में गृह मंत्रालय ने जानकारी दी कि पिछले 3 वर्षों के दौरान, जम्मू-कश्मीर में सीमा पार से आतंकी घटनाओं और घुसपैठ की कोशिशों में उल्लेखनीय कमी आई है। हालांकि, पिछले 3 वर्षों के दौरान सीमा पार से गोलाबारी की घटनाएं बढ़ी हैं। इससे पहले गृह मंत्रालय ने राज्यसभा में लिखित जवाब में पिछले दो वर्षों के दौरान पड़ोसी देशों से घुसपैठ की संख्या की जानकारी दी। इस दौरान भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर 61, भारत-बांग्लादेश बॉर्डर पर 1045, भारत-नेपाल बॉर्डर से घुसपैठ की 63 घटनाएं सामने आई हैं। वहीं भूटान, म्यांमार और चीन से घुसपैठ की कोई घटना सामने नहीं आई है।

मंत्रालय ने बताया है कि भारत-बांग्लादेश सीमा पर फेंसिंग लगाने का काम कठिन भू-भाग,नदी और दलदल भूमि,भूमि अधिग्रहण की समस्याओं, सार्वजनिक विरोध और बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश द्वारा आपत्तियों आदि के कारण पूरा नहीं हो सका। सरकार नियमित रूप से फेंसिंग के काम की प्रगति की निगरानी कर रही है। बीएसएफ ने भारत-बांग्लादेश सीमा पर नदी की सीमा की रखवाली के लिए फ्लोटिंग बॉर्डर आउट पोस्ट और नावों के साथ कर्मियों को तैनात किया है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close